उत्तर प्रदेश विकलांग पेंशन योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन, UP Viklang Pension

UP Viklang Pension Yojana Apply | उत्तर प्रदेश विकलांग पेंशन योजना ऑनलाइन आवेदन | Uttar Pradesh Viklang Pension Application Form | विकलांग पेंशन योजना उत्तर प्रदेश आवेदन की स्थिति

केंद्र सरकार एव राज्य सरकार द्वारा देश के नागरिको को सहायता देने के लिए कई अन्य तरह की योजनाए आरम्भ की जाती है, इसी तरह केंद्र सरकार ने देश के विकलांग नागरिको को सहारा देने के लिए एक नई योजना शुरू की है जिसका नाम Viklang Pension Yojana है। इस योजना का लाभ प्राप्त करके देश के विकलांग नागरिको को किसी पर भी निर्भर नहीं रहना पढ़ेगा और उन्हें जीवन यापन करने में किसी भी परेशानी का सामना नहीं करना पढ़ेगा। Viklang Pension Yojana का लाभ केवल वही नागरिक प्राप्त कर सकते है जो चल फिर नहीं सकते कोई काम नहीं कर सकते जो दुसरो पर निर्भर है यदि आप विकलांग है और इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते है तो आपको आवेदन करना होगा, और उसके विकलांग पेंशन योजना लिस्ट नाम चेक करना होगा। (Also Read :-यूपी राशन कार्ड लिस्ट 2022 – UP Ration Card List @fcs.up.gov.in राशन कार्ड सूची)

UP Viklang Pension 2022

केंद्र सरकार का इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्श्ये यह है की Viklang Pension List 2022 के तहत विकलांग की मदद करके उनके जीवन में सुधार करना है जिससे उन्हें किसी भी परेशानी का सामना नहीं करना पढ़े। विकलांग पेंशन योजना 2022 के अंतगर्त विकलांग नागरिको को 200 रुपये आर्थिक मदद के रूप में प्रदान करेगी, और योजना की शेष राशि राज्य सरकार द्वारा जोड़ी जाएगी, लेकिन न्यूनतम पेंशन राशि 400 रुपये होगी, और साथ ही अधिकांश राज्य नागरिको को 500 रुपये हर माह प्रदान की जाएगी। और उनकी राशि सीधे उनके बैंक अकाउंट में भेजी जाएगी। यदि आप इस योजना से जुडी सभी जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो आपको हमारे इस लेख को पूरा पढ़ना होगा।

Overview of the UP Viklang Pension Scheme

योजना का नामउत्तर प्रदेश विकलांग पेंशन योजना 2022
वर्ष2022
आरम्भ की गईउत्तर प्रदेश सरकार द्वारा
लाभार्थीविकलांग जन
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन
उद्देश्यपेंशन की सुविधा
लाभमासिक पेंशन भत्ता
श्रेणीउत्तर प्रदेश सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइटsspy-up.gov.in/index.aspx

उत्तर प्रदेश विकलांग पेंशन योजना का उद्देश्य

हम सभी लोग जानते है की आज भी हमारे देश में अन्य विकलांग ऐसे है जो अपना गुजरा करने के लिए भीख मांग रहे हैं, क्योकि विकलांग नागरिक काम नहीं कर सकते इसलिए उन्हें भीख मांग कर अपना गुजरा करना पढता है इस सभी बातो को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार ने Viklang Pension Yojana को शुरू किया है। इस योजना के द्वारा देश के विकलांग नागरिको को हर महीने 500 रूपये प्रदान किये जायेगे जिससे विकलांग अपनी आर्थिक जीवन को सुधार सके और उनमे आत्मनिर्भरता आये और देश का विकाश हो।

UP Viklang Pension Yojana 2022 के लाभ

यदि आप इस योजना के अंतगर्त लाभ प्राप्त करना चाहते है तो आपको नीचे स्टीप को फॉलो करना होगा।

  • केंद्र सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश विकलांग पेंशन योजना के तहत विकलांगों को 500 रुपये हर माह आर्थिक सहायता के रूप में प्रदान किये जायेगे। जिससे उनके किसी भी परेशानी का सामना नहीं करना पढ़े और इस योजना का लाभ केवल उन ही नागरिको को दिया जायेगा जिनके शरीर का कुछ अंग ख़राब होगा जो काम नहीं कर सकते।
  • केंद्र सरकार का मुख्य उद्श्ये यह है की Viklang Pension Yojana के द्वारा देश के कमज़ोर विकलांगो को अपना जीवन यापन करने में किसी तरह समस्या का सामना नहीं करना पड़े।
  • केंद्र सरकार द्वारा इस योजना के अंतगर्त कोरोना वायरस के चलते विकलांग नागरिको के खाते में 200 की जगह 500 रुपये सहायता के रूप में प्रदान किये जाएंगे।

UP Viklang Pension की पात्रता

यदि आप Viklang Pension Yojana के तहत लाभ प्राप्त करना चाहते है तो आपको नीचे दिए गए आवशयक दस्तावेजों को पूरा करना होगा।

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • आवासीय प्रमाण
  • बैंक पासबुक (पेंशन राशि हस्तांतरण के लिए)
  • संबंधित विभाग से विकलांगता प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट के आकार की तस्वीर
  • जन्म प्रमाणपत्र
  • फोटो पहचान प्रमाण
  • वोटर आईडी नंबर
  • बीपीएल कार्ड नंबर

उत्तर प्रदेश विकलांग पेंशन योजना लाभार्थी सूची देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको Viklang Pension Yojana की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
उत्तर प्रदेश विकलांग पेंशन योजना
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको दिव्यांग पेंशन के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा, अब आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
  • यहां पेज को स्क्रोल करने पर आपको पिछले पांच वर्षो की पेंशनर सूची के लिंक दिखाई देंगे, आप यहां किसी एक ऑप्शन पर क्लिक कर दे।
  • अब एक नया पेज खुल जायेगा यहा आपको चुने गए वित्तीय वर्ष के लिए जनपदों की सूची दिखाई देगी, अपने जनपद का चुनाव कर ले।
  • इसके बाद आपके सामने विकासखंड और नगर-निकाय के विकल्प आ जायेंगे आपको क्रमवार इनका चयन कर लेना होगा।
  • आपके सामने वार्ड-वार एक सूची आ जाएगी जिसमे कुल पेंशनर्स की संख्या लिखी होगी यहां से आप अपने वार्ड का चयन कर ले।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा जहा रजिस्टार सख्या और पेंशनर्स के नाम के साथ उस वार्ड में कुल पेंशनर्स की लिस्ट खुलकर आ जाएगी।